Thursday, June 13, 2024
spot_img

लेटेस्ट न्यूज

अंबानी की कंपनी JSFL पहुंची 21 अरब डॉलर वैल्यूएशन के पार Share Price ने भी पकड़ी रफ़्तार

जियो फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (JSFL), जो रिलायंस इंडस्ट्रीज के वित्तीय सेवा प्रभाग के रूप में कार्य करता है, का प्रभावशाली मूल्यांकन 21 बिलियन डॉलर है। हैरानी की बात यह है कि JSFL का मूल्य अडानी समूह के इंडियन कोल और इंडियन ऑयल से भी अधिक है। JSFL का Share Price बुधवार को RIL के समापन मूल्य और आज विशेष प्री-ओपन सत्र के दौरान प्राप्त मूल्य के बीच अंतर से निर्धारित होता है। अधिक जानकारी के लिए आप पूरा समाचार लेख पढ़ सकते हैं

रिलायंस इंडस्ट्रीज से अलग हुई वित्तीय सेवा शाखा जियो फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (JSFL) का मूल्यांकन 21 अरब डॉलर का है। विशेष रूप से, यह JSFL के मूल्य को अडानी समूह की कंपनियों, अर्थात् कोल इंडिया और इंडियन ऑयल से ऊपर रखता है।

JFSL share price की कैलकुलेशन

बीएसई और एनएसई दोनों स्टॉक एक्सचेंजों ने सुबह 9 बजे से 9:45 बजे तक चलने वाला एक विशेष प्री-ओपन ट्रेडिंग सत्र आयोजित किया। इस सत्र का उद्देश्य अलग हुई जियो फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (JSFL ) के बाजार मूल्य की गणना करना था। इस प्रक्रिया के एक हिस्से के रूप में, निफ्टी 50 शेयरों में सामान्य कारोबार सुबह 10 बजे तक प्रतिबंधित कर दिया गया था।

इस विशेष दिन पर JSFL के बाजार मूल्य की गणना में पिछले दिन (बुधवार) को रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) के समापन मूल्य और वर्तमान दिन आयोजित विशेष प्री-ओपन सत्र के दौरान प्राप्त मूल्य के बीच अंतर का पता लगाना शामिल था। गौरतलब है कि NSE पर RIL का पिछला सत्र 2,841.85 रुपये पर बंद हुआ था, जबकि आज विशेष सत्र के बाद भाव घटकर 2,580 रुपये पर आ गया।

इन आंकड़ों के आधार पर बुधवार को जियो फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (JFSL) के शेयर की कीमत 261.85 रुपये प्रति शेयर निर्धारित की गई। इस शेयर मूल्य पर, JSFL की कुल शेयर पूंजी का मूल्य 1,72,000 करोड़ रुपये या लगभग 21 बिलियन अमेरिकी डॉलर से अधिक है।

डीमर्जर के बाद भी अंबानी की JSFL बनी भारत की 32वीं सबसे मूल्यवान कंपनी

1,72,000 करोड़ रुपये या लगभग 21 बिलियन अमरीकी डालर से अधिक के वर्तमान मूल्यांकन के साथ, जियो फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (JSFL) बाजार पूंजीकरण के हिसाब से भारत की 32वीं सबसे मूल्यवान कंपनी बन जाएगी। इस उल्लेखनीय स्थिति से JSFL अडानी पोर्ट्स, अडानी ग्रीन, टाटा स्टील, कोल इंडिया, एचडीएफसी लाइफ, इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (आईओसी) और बजाज ऑटो जैसी प्रमुख कंपनियों के बाजार पूंजीकरण को पार कर जाएगी। JSFL के बाजार मूल्य में उल्लेखनीय वृद्धि ने इसे भारत की शीर्ष कंपनियों में स्थान दिया है।

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने पहले अपनी वित्तीय सेवा इकाई को अलग करने के संबंध में एक घोषणा की थी, जिसके परिणामस्वरूप RSIL (रिलायंस स्ट्रैटेजिक इन्वेस्टमेंट्स लिमिटेड) का गठन हुआ। इसके बाद, RISL का नाम बदलकर JSFL (जियो फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड) कर दिया गया। इस डिमर्जर प्रक्रिया के हिस्से के रूप में, शेयरधारक अपने प्रत्येक रिलायंस शेयर के लिए एक जेएफएसएल शेयर प्राप्त करने के हकदार थे। जिससे रिलायंस समूह की कंपनियों के भीतर स्पष्टता और विशेषज्ञता बढ़ी।

पेटीएम और बजाज फाइनेंस से टक्कर

कंपनी की स्टॉक एक्सचेंज फाइलिंग के अनुसार, डीमर्जर की प्रभावी तिथि 1 जुलाई निर्धारित की गई है। इसके अतिरिक्त, नई कंपनी, Jio फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (JFSL) के शेयरों के आवंटन की रिकॉर्ड तिथि 20 जुलाई निर्धारित की गई है, जो आज है।

डिमर्जर प्रक्रिया पूरी होने के साथ, जेएफएसएल पूंजी के मामले में पांचवां सबसे बड़ा फाइनेंसर बनने की ओर अग्रसर है। यह महत्वपूर्ण स्थिति कंपनी को वित्तीय सेवा क्षेत्र में एक मजबूत खिलाड़ी के रूप में स्थापित करती है, जो सीधे पेटीएम और बजाज फाइनेंस जैसी प्रसिद्ध संस्थाओं को टक्कर देती है। उद्योग में एक प्रमुख खिलाड़ी के रूप में जेएफएसएल का उभरना वित्तीय परिदृश्य को आकार देने और अपने ग्राहकों और निवेशकों की जरूरतों को पूरा करने की कंपनी की ताकत और क्षमता को दर्शाता है।

यह भी पढ़े: RS VS DOLLAR TODAY: कारोबारी हफ्ते के पहले दिन रुपये ने बाज़ी मारी , डॉलर पर पड़ा 12 पैसे भारी

जरूर पढ़ें

Latest Posts

ये भी पढ़ें-