spot_img

लेटेस्ट न्यूज

WI vs IND: Rohit Sharma ने रचा इतिहास, Kohli के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में इस ‘विराट’ रिकॉर्ड को हासिल करने वाले बने दूसरे बल्लेबाज

Wi vs IND: Rohit Sharma ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में 3500 से अधिक रन बनाने वाले विराट कोहली के बाद दूसरे बल्लेबाज बनकर इतिहास रच दिया है। उन्होंने यह अविश्वसनीय उपलब्धि वेस्टइंडीज के खिलाफ डोमिनिका टेस्ट मैच के दूसरे दिन जोमेल वारिकन के 49वें ओवर में सिंगल लेकर हासिल की। यह रोहित के लिए एक प्रभावशाली यात्रा रही है, जिन्होंने 2019 में टेस्ट क्रिकेट में सलामी बल्लेबाजी शुरू की थी

तब से, रोहित ने शीर्ष क्रम में अपनी योग्यता साबित की है, लगातार रन बनाए हैं और भारत की बल्लेबाजी का नेतृत्व किया है। यह नवीनतम उपलब्धि उनके कौशल, समर्पण और कड़ी मेहनत का प्रमाण है। वह अब सर्वकालिक महान बल्लेबाजों में से एक कोहली के साथ एक विशिष्ट क्लब में हैं। रोहित के लिए यह कितनी अविश्वसनीय उपलब्धि है!” यह हमे आप कमेंट करके जरूर बताना। अब आगे…

टेस्ट क्रिकेट में रोहित की सफलता उनके धैर्य और दृढ़ता का प्रमाण है। उन्होंने खेल के सबसे लंबे फॉर्मेट में खुद को स्थापित करने के लिए काफी संघर्ष किया, लेकिन एक बार जब उन्हें ओपनिंग में बल्लेबाजी की करने का मौका दिया गया, तो उन्होंने उस पल का फायदा उठाया और फिर कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। यह रोहित के लिए शानदार वापसी की कहानी है, जो अब विराट कोहली के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े रहते हैं,

WI vs IND के दौरान रोहित ने की खास उपलब्धि हासिल 

Rohit Sharma ने अपनी ताकत और कौशल का प्रदर्शन करते हुए एक असाधारण पारी के साथ टेस्ट मैच के मैदान में शानदार वापसी की। उन्होंने गेंद को दस बार सीमारेखा के पार पहुंचाया और दो गगनचुंबी छक्के आसमान में भेजे, जिससे दर्शक आश्चर्यचकित रह गए। पहले टेस्ट के दूसरे दिन उन्होंने 103 रन बनाकर क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में 3500 रन का आंकड़ा पार कर लिया. इस उपलब्धि को हासिल करने के लिए उन्हें 49 ओवर में जोमेल वॉरिकन की गेंद पर एक रन लेकर टेस्ट में 3500 रनो का मुकाम हासिल किया, जिससे खेल के दिग्गजों में से एक के रूप में उनकी स्थिति मजबूत हो गई। रोहित शर्मा की उपलब्धि क्रिकेट इतिहास में एक महत्वपूर्ण क्षण है

रोहित न केवल कोहली के साथ इस विशेष क्लब में शामिल हुए हैं, बल्कि इस से पहले भी उन्होंने कई रिकॉर्ड तोड़े हैं। जिसमे उनके पास T20I क्रिकेट में किसी भारतीय बल्लेबाज द्वारा लगया सबसे तेज शतक शामिल है, जोकि उन्होंने केवल 35 गेंदों का सामना करते हुए इस लक्ष्य तक पहुंचे। साथ ही वह वनडे में तीन दोहरे शतक लगाने वाले पहले भारतीय हैं। और वह एक ही कैलेंडर वर्ष में खेल के तीनों प्रारूपों में 500 से अधिक रन बनाने वाले इतिहास के एकमात्र बल्लेबाज हैं। उनकी उपलब्धियाँ सचमुच उल्लेखनीय हैं!”

रोहित शर्मा तीन दोहरे शतक बनाने की उनकी अविश्वसनीय उपलब्धि से शुरुआत करूंगा। दरअसल, यह कहना सही लगेगा की एकदिवसीये क्रिकेट खेल के इतिहास में यह मुकाम हासिल करने वाले एकमात्र खिलाड़ी हैं। उन्होंने पहली बार 2013 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दोहरा शतक बनाया, उसके बाद 2014 में श्रीलंका के खिलाफ और आखिरकार 2017 में वेस्टइंडीज के खिलाफ दोहरा शतक बनाया। वह वास्तव में 50 ओवर के प्रारूप में एक ताकत हैं!

कोहली के साथ इस ‘विराट’ ग्रुप में शामिल हुए रोहित

सभी फॉर्मेट में 3500 रनों की उपलब्धि हासिल करने वाले पहले खिलाड़ी विराट कोहली इस विषेस समूह के नेता माने जाते है। कोहली के अपने शानदार करियर में टेस्ट में 8479 रन, वनडे में 12898 रन और टी20ई में 4008 रन बनाये हैं। उल्लेखनीय रूप से, कोहली टी20ई के इतिहास में 4000 रन का आंकड़ा पार करने वाले एकमात्र बल्लेबाज हैं।” और वही रोहित टेस्ट, वनडे और टी20 में क्रमशः 3540, 9825 और 3853 बना चुके है।

Wi vs IND: जैसे ही दूसरे दिन का खेल समाप्त हुआ, भारत के बल्लेबाजी प्रदर्शन में लचीलापन दिखा, दूसरे दिन तक 2 विकेट ने नुकशान पर भारत ने 312 रन बना लिए है। यशस्वी जयसवाल ने 146 रनों पर नाबाद रहकर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया, जबकि विराट कोहली ने मैदान पर 36 रनों का योगदान दिया। हालाँकि, वेस्टइंडीज की टीम को जोमेल वारिकन और एलिक अथानाजा की मजबूत जोड़ी का सामना करना पड़ा, जो एक-एक विकेट लेने में सफल रहे।

जरूर पढ़ें

Latest Posts

ये भी पढ़ें-