spot_img

लेटेस्ट न्यूज

Indian Dishes For Diwali: दिवाली पर बनाएं ये पारंपरिक आसान और स्वादिष्ट व्यंजन

दिवाली के पारंपरिक व्यंजन: रोशनी के इस त्योहार के बारे में सोचते ही मिठाइयां और व्यंजन मन में आते हैं। कुछ ऐसे पारंपरिक व्यंजन हैं जिनके बिना दिवाली का त्योहार अधूरा है।

Indian Dishes For Diwali: दिवाली बस कुछ ही दिन दूर है, रोशनी के इस त्योहार का ख्याल आते ही मन में मिठाइयां और व्यंजन आ जाते हैं। हालाँकि आधुनिक समय में दिवाली का स्वरूप बदल गया है, लेकिन कुछ परंपराएँ अभी भी कायम हैं। कुछ ऐसे पारंपरिक व्यंजन (दिवाली पारंपरिक व्यंजन) हैं जिनके बिना दिवाली का त्योहार अधूरा है। ये व्यंजन हर घर में दादी-नानी बनाती रही हैं। तो आइए आज हम आपको ऐसे ही कुछ व्यंजन और उनकी रेसिपी बताते हैं।

ये पारंपरिक व्यंजन बनाएंगे दिवाली को खास

1. शकरपारेः ( Shakarpare )

आटे को सामान्य पानी से गूथ लीजिये. इसे 20 से 30 मिनट तक गीले सूती कपड़े से ढककर रखें। – अब इसकी बड़ी लोई बनाकर बड़ी रोटी के आकार में बेल लें या आप इसे चौकोर भी बेल सकते हैं. – अब एक चाकू लें और इसे चौकोर या बर्फी के आकार में काट लें. – अब एक पैन में पानी के साथ गुड़ या चीनी डालें और इसकी चाशनी तैयार करें. इसमें भुना हुआ गन्ना डालकर चाशनी में मिला दीजिये, इस प्रकार गन्ना तैयार किया जा सकता है.

2. मठरी या नमकीन खुरमेः 

आटे में अजवाइन और नमक मिला दीजिये, अब तेल डाल कर आटे को अच्छी तरह मसल लीजिये. – अब गर्म पानी लें और उसमें आटा मिलाएं. आटे को गीले कपड़े से ढक दीजिये ताकि आटा सूखे या फटे नहीं. – अब छोटी-छोटी लोइयां लें, उन्हें बेल लें और चाकू या चम्मच की मदद से उनमें छेद कर दें. अब आप सभी मठरियों को एक-एक करके गरम तेल में तल कर निकाल लीजिये.

3.मूंग दाल का हलवाः

दूध गर्म करें और उसमें केसर डालकर एक तरफ रख दें. – इसके बाद एक पैन में घी गर्म करें और उसमें मूंग डालकर धीमी आंच पर सुनहरा होने तक भून लें. इस बात का ध्यान रखना होगा कि दाल तले में न लगे. जब दाल सुनहरी हो जाए और घी छोड़ने लगे तो इसमें केसर वाला दूध डालें. जब दूध पूरी तरह से दाल में समा जाए तो इसमें चीनी और किशमिश डालें और हलवा तैयार है. परोसते समय आप काजू, बादाम और पिस्ता भी डाल सकते हैं.

4. गुजियाः

मैदे में घी डालकर मिला लीजिए और पानी डालकर थोड़ा सख्त आटा गूंथ लीजिए. – अब एक पैन में घी गर्म करें और उसमें रवा भून लें. जब रवा अच्छे से भुन जाए तो इसे एक तरफ रख दें. – अब उसी पैन में ड्राई फ्रूट्स भून लें. इसी तरह नारियल का बुरादा भी भून लीजिए. – अब एक पैन में मावा को हल्का सुनहरा होने तक भून लें. – अब सभी चीजों को मिला लें, इलायची और चीनी भी डाल दें. आटे को छान लीजिए, इसमें राव और मावा का मिश्रण डालकर पानी से ढक दीजिए. – अब तेल गर्म करें और गुजिया तलें. इसे दिवाली के त्योहार पर या आम दिनों में भी बनाया जा सकता है.

5. कुरकुरी बाकरवडी

खसखस, चीनी, नींबू और 2 चम्मच नमक मिलाकर अलग रख दें. – आलू को डीप फ्राई करें और हरा धनियां डालें. – एक पैन में 1 टेबलस्पून तेल गर्म करें और उसमें सफेद तिल, नारियल डालकर 2-3 मिनट तक भूनें. इस मसाले को तले हुए आलू में मिला दीजिये. हरी मिर्च डालें.

चने के आटे और आटे को मिला लीजिये, इसमें डेढ़ चम्मच तेल, नमक और हल्दी डाल कर अच्छी तरह मसल लीजिये. इसे चकले पर कूट लीजिए, अब इसकी लोई बनाकर पतला बेल लीजिए.

गरम मसाला को पानी में गाढ़ा-गाढ़ा मिला लीजिये. – बेली हुई पूरी पर थोड़ा सा गरम मसाला छिड़कें और ऊपर से आलू-धनिया मसाला फैला दें. खत्म करो। किनारों को हाथ से दबा कर चिपका दीजिये. रोल पर 1 इंच की दूरी पर चाकू से निशान लगाएं। – तेल गर्म करें और धीमी आंच पर बादाम तल लें. – इसे उल्टा न करें बल्कि छलनी से तेल ऊपर डालें. फिर इसे निशान पर काटें और कुरकुरी बकवाराडी परोसें।

जरूर पढ़ें

Latest Posts

ये भी पढ़ें-