Thursday, July 18, 2024
spot_img

लेटेस्ट न्यूज

कैसे एक IRS अधिकारी बन गया कैंसर पीड़ित पत्नी का हत्यारा? जानिए दिल्ली में महिला वकील की हत्या वाले दिन क्या हुआ?

उत्तर प्रदेश के नोएडा में रहने वाली और सुप्रीम कोर्ट में वकील के तौर पर काम करने वाली रेनू सिन्हा (61) की उनके पति ने हत्या कर दी। हत्या की वजह बंगला बेचना बताया जा रहा है। जानिए पूरा मामला?

Murder of female lawyer in Delhi NCR: उत्तर प्रदेश के नोएडा में रहने वाली और सुप्रीम कोर्ट में वकील के तौर पर काम करने वाली रेनू सिन्हा (61) की उनके पति ने हत्या कर दी। हत्या की वजह बंगला बेचना बताया जा रहा है। जानिए दिल्ली एनसीआर में महिला वकील की हत्या वाले दिन क्या हुआ?

उत्तर प्रदेश के नोएडा में रहने वाली और सुप्रीम कोर्ट में वकील के तौर पर काम करने वाली रेनू सिन्हा (61) की उनके पति ने हत्या कर दी। हत्या की वजह बंगला बेचना बताया जा रहा है लेकिन रेनू इसके खिलाफ थी। जिसके चलते उन्होंने अपनी पत्नी की हत्या कर दी।

इस मामले में अंत्येश भंडारी नाम के शख्स का नाम भी पुलिस को पता चला है. इस अंतिम संस्कार में नितिन सिन्हा अपना बंगला 5 करोड़ 70 लाख में बेचने वाले थे। रविवार यानी हत्या वाले दिन ही डील फाइनल हुई थी. रविवार दोपहर करीब 12 बजे अंत्येश भंडारी उस बंगले के पास आया, जहां नितिन का बंगला है। सेक्टर 30 के बंगला नंबर D40 पर पहुंचकर नितिन ने अंत्येश, उनके बेटे और उनके साथ आए डीलर को बंगला दिखाया. अंत्येश ने कहा कि हम ऊपरी मंजिल देखना चाहते हैं। तब नितिन ने उसे बताया कि मेरी पत्नी कैंसर से पीड़ित है और वह आराम कर रही है। हम इस बंगले को बेचना चाहते हैं क्योंकि हम अब विदेश जा रहे हैं।’ पुलिस ने जब अंत्येश से पूछताछ की तो अंत्येश ने बताया कि जब हम उसके घर गए तो वह बहुत डरा हुआ था. लेकिन हमें इसकी तनिक भी आशंका नहीं थी कि नितिन ने उनकी हत्या की होगी. हम पांच करोड़ 70 लाख रुपए में एक बंगला खरीदने वाले थे.. लेकिन खैर मैंने वह बंगला नहीं खरीदा।

यह भी पढ़ें: JYOTI MIRDHA PROFILE: कौन हैं ज्योति मिर्धा जिन्होंने चुनाव से पहले कांग्रेस छोड़ दी

नितिन सिन्हा खुद को आईआरएस अधिकारी बताते थे

नितिन सिन्हा ने पुलिस पूछताछ में बताया कि मेरी पत्नी यानी रेनू सिन्हा कैंसर से पीड़ित थीं. उसका इलाज चल रहा था. लेकिन हमारी बहस बांग्ला बेचने को लेकर हुई. मैंने बंगले का सौदा 5 करोड़ 70 लाख में तय किया था लेकिन रेनू इसके खिलाफ थी। यही वजह है की मैंने उसकी हत्या कर डाली. नितिन के पड़ोसियों ने पुलिस को बताया कि वह कभी-कभी खुद को बिजनेसमैन तो कभी पुलिस वाला भी बताता था। जिस महिला की मौत हुई उसका एक भाई मीडिया में काम करता है और उसने ही पुलिस को इस बारे में बताया था. जब महिला के दोस्तों और परिवार को घटना के बारे में पता चला, तो वे उसके घर गए। उसका भाई बहुत परेशान था और बहुत रो रहा था। जो कुछ हुआ उससे पड़ोसी भी हैरान रह गए और बहुत सारे लोग देर रात तक घर के पास रुके रहे। पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि क्या महिला की जानबूझ कर हत्या की गई है या उसकी मौत का कोई और कारण है।

यह भी पढ़ें: जो बिडेन ने मोदी के साथ मानवाधिकार, मीडिया की स्वतंत्रता पर की चर्चा

यह मामला क्या है?

सुप्रीम कोर्ट में कार्यरत वकील रेनू सिन्हा की हत्या कर दी गई. पुलिस ने इस मामले में 24 घंटे तक अपने ही बंगले में छुपे रहे सिन्हा के पति को गिरफ्तार कर लिया है. 61 साल की वकील रेनू सिन्हा का शव रविवार शाम उनके बंगले के बाथरूम में मिला। उनका शव लहूलुहान अवस्था में था. जिसका पुलिस ने वीडियो भी बनाया। अब इस मामले में उनके पति को गिरफ्तार कर लिया गया है. आजतक ने यह खबर दी है.

पुलिस ने रेनू सिन्हा के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. रेनू सिन्हा के भाई की शिकायत के बाद पुलिस मौके पर पहुंची. उन्होंने दरवाजा तोड़ा तो अंदर रेनू का शव पड़ा हुआ था। रेनू सिन्हा के भाई समेत उनके परिवार को शक था कि उनके पति ने ही हत्या की है. जब रेनू सिन्हा का शव मिला तो उनके पति घर से लापता थे. पुलिस उनकी तलाश कर रही थी. लेकिन सुबह करीब 3 बजे पुलिस ने रेनू सिन्हा के पति को उनके घर से गिरफ्तार कर लिया. हत्या के बाद रेनू सिन्हा के पति बंगले के स्टोर रूम में छुपे हुए थे.

जरूर पढ़ें

Latest Posts

ये भी पढ़ें-